About Maa in Hindi

माँ पर निबंध – Essay About Maa in Hindi

Essay About Maa in Hindi : नमस्कार दोस्तों आपका Hindipool पर स्वागत है| आज हमने माँ पर निबंध लिखा है| आपने यह लाइन तो जरूर सुनी होगी कि “भगवान हर जगह नहीं हो सकते इसलिए उन्होंने माँ को बनाया है ” यह लाइन बहुत खूब कही गई है क्योंकि मां एक ममता की मूरत होती है जो अपने बच्चों की सदैव रक्षा करती और उसे हमेशा खुश रखने का प्रयास करती है|

सभी के जीवन में माँ ही एकमात्र निस्वार्थ इंसान होती है. जो बच्चे की सलामती और ख़ुशी के लिए खुदकी ख़ुशी और जान तक दाव पर लगा सकती है|

माँ पर निबंध – Essay About Maa in Hindi

जीवन में माँ का महत्व – Maa Ki Bhumika

माँ एक निस्वार्थ इंसान होती है जिसका हर एक बच्चे के जीवन में बहुत अहम महत्व होता है, भगवान हर जगह तो नहीं हो सकते इसलिए उन्होंने मां को बनाया है जो आपको जीवन में सही दिशा की ओर ले जाती है और आपको जीवन में सफल बनाती है|

भगवान का एक अनमोल उपहार होती है माँ, वह अपने बच्चे से सर्वश्रेष्ठ प्रेम करती है और उनका हर दुविधा, परेशानी और कठिनाई में साथ देती है| मां को करुणा का प्रतीक माना जाता है|

जरा सोचिए एक बार अगर माँ ही नहीं होती तो आपको रोज सुबह उठाता कौन, कौन आपका रोज़ सुबह नाश्ता बनाता, कौन पूरे दिन भर पूरा घर संभालता, इतना ही नहीं माँ के महत्व अनगिनत है| हम सबकी माँ अपने सपनो को छोड़कर बच्चो के सपनो को पूरा करने में लग जाती है, परन्तु दुःख की बात तो यह है, उन्हें इतना सब कुछ करने बाद क्या मिलता है, घर वालो के ताने और बच्चो की बतमीज़ी|

मां हमें जीवन जीने का तरीका सिखाती है और यह दुनिया कैसी है उसका ज्ञान प्रदान करती है| बहुत बच्चे होते हैं जो अपनी माँ को वो सम्मान नहीं देते हैं जिसकी वो हक़दार है परन्तु फिर भी यदि आपकी जिंदगी में कोई कठिनाई या परेशानी आ जाए या कभी आपकी सेहत खराब हो जाए, तो घर आप पीछे मुड़ कर देखेंगे तो आपको माँ के अलावा कोई नहीं नजर आएगा और वह आपकी दिन रात सेवा करेगी जब तक आप स्वस्थ ना हो जायें| माँ अपना पूरा जीवन अपने बच्चों के लिए समर्पित कर देती है|

माँ के प्रति हमारा कर्तव्य

दिन रात जो औरत हमारे लिए निस्वार्थ भाव से मेहनत करती है, जो अपनी पूरी जिंदगी हमारी सेवा करने में समर्पित करती है और हमारे जीवन को आसान बनाती है उनके प्रति हमारे भी कुछ कर्तव्य होते हैं जैसे कि हमें उनका हमेशा आदर-सम्मान करना चाहिए|

उन्होंने हमें पाल-पोस कर बड़ा किया हमारा लालन-पालन करा, हमारा भी उनके प्रति कर्तव्य होता है, की जब उनकी वृद्धावस्था आये तो हमें उन्हें वृद्ध आश्रम में ना छोड़कर अपने साथ रखना चाहिए और उनकी हर एक मनोकामनाएं पूरी करें और उन्हें खुशहाल जीवन देना चाहिए, हमें उनसे घर के काम नहीं करने चाहिए, उनकी सेहत का ख्याल रखना चाहिए, उन्हें किसि भी चीज़ की आवश्यकता हो तो हमे उन्हें वो चीज़ लाकर देनी चाहिए आदि|

माँ पूरी ज़िन्दगी हमारा ख्याल रख कर हमसे बदले में एक चीज़ के सिवा किसी चीज की मांग नहीं करती है, वह बस यह चाहती है की हम अपनी जिंदगी में सफल हो जाए और हम उनसे हमेशा उतना ही प्यार करते रहे जितना हम अभी करते हैं|

हमे उम्मीद है दोस्ती आपको हमारा Essay About Maa in Hindi  अच्छा लगा होगा|

निष्कर्ष

मां की भूमिका और उनके महत्व को शब्दों में समझाना असंभव है, मां की भूमिका अपरंपार है और उनका प्यार निस्वार्थ है| हमें उनका हमेशा आदर सम्मान करना चाहिए और माँ एक जननी है, वह ममता की एक मूरत है| भले वह अपना बच्चा हो या किसी और का मां का प्रेम हर बच्चे के लिए निस्वार्थ ही रहता है| वह बच्चे का हमेशा प्रेम भाव से लालन-पालन पालन करती है और उसकी जिंदगी को एक महत्व देती है जिससे वह अपनी जिंदगी में सफल हो पाते हैं|

आप इसे भी जरूर पढ़े:

माँ पर शायरी – Maa Ke Liye Shayari

माँ पर कविता – Poem on Mother in Hindi

अगर आपको हमारा Essay About Maa in Hindi पर आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर करना ना भूले और साथ ही आपका कोई झाव हो तो उसे कमेंट में जरूर बताएं| धन्यवाद

Hindipool

Rahul हिंदी ब्लॉग इंडस्ट्री के प्रमुख लेखकों में से एक हैं, इनकी पढ़ाई-लिखाई, टेक्नोलॉजी, आदि विषय में असीम रूचि होने के कारण, इन्होने ब्लोग्स के जरिये लोगो की मदद करके अपना करियर बनाने का एक अनोखा एवं बेहतरीन फैसला लिया है|

View all posts by Hindipool →

Leave a Reply

Your email address will not be published.